100 रुपये की दवा से कैंसर का इलाज-दोबारा नहीं होगा कैंसर(Cancer treatment with medicine worth Rs 100 – cancer will not recur)

100 रुपये की दवा से कैंसर का इलाज

मुंबई के टाटा मेमोरियल सेंटर के चिकित्सकों ने बनाया दवा का कॉम्बिनेशन-Doctors of Mumbai’s Tata Memorial Center made a combination of medicines.

फ़िलहाल चूहों पर हुआ परीक्षण

मुंबई के टाटा मेमोरियल सेंटर के चिकित्सकों ने चूहों पर ट्रायल कर ऐसी दवा का कॉम्बिनेशन बनाने का दावा किया है जो इंसानों में कैंसर दोबारा होने से रोकेगी,साथ ही रेडिएशन और कीमोथैरेपी के साइड इफ़ेक्ट को भी 50 फ़ीसदी तक कम किया जा सकेगा|

सेंटर के चिकित्सकों का दावा है कि इस दवा पर 10 साल रिसर्च हुई है और इसे जादुई खुराक नाम दिया गया है|

Currently tested on rats

Doctors at Mumbai’s Tata Memorial Center have claimed to have created a combination of drugs by testing them on rats that will prevent cancer from recurring in humans and will also reduce the side effects of radiation and chemotherapy by 50 percent.

The doctors of the center claim that 10 years of research has been done on this medicine and it has been named a magical dose.

100 रुपये में मिलेगी कैंसर दवा- Cancer medicine will be available for Rs 100

डॉक्टर्स ने दावा किया है कि यह दवा सिर्फ 100 रुपये में उपलब्ध होगी और इस साल जून-जुलाई माह तक मिलने की आशा है|फ़िलहाल इसका परीक्षण चूहों पर हुआ है और इंसानों पर परीक्षण पूरा करने में लगभग पांच साल और लग जायेंगे|

Doctors have claimed that this medicine will be available for only Rs 100 and it is expected to be available by the month of June-July this year.

100 रुपये की दवा से कैंसर का इलाज-मानव ट्रायल के बाद साफ़ होगी तस्वीर-Cancer treatment with medicine worth Rs 100 – picture will be clear after human trials

सीनियर कैंसर एक्सपर्ट्स का मानना है कि इस दवा का जल्दी आना अभी संभव नहीं है |अभी इसका ट्रायल केवल चूहों पर हुआ है और मानव ट्रायल के बाद ही तस्वीर पूरी तरह से साफ़ हो सकेगी|

Senior cancer experts believe that it is not possible for this drug to arrive soon. Currently, its trial has been done only on rats and the picture will be completely clear only after human trials.

रेस्पिट्रोल और कॉपर के कॉम्बिनेशन से तैयार हुयी दवा

जयपुर के एक सीनियर मेडिकल ऑन्कोलॉजिस्ट के अनुसार के डॉक्टर्स ने जिस दवाई के कॉम्बिनेशन को बनाने का दावा किया है|वह रेस्पीट्रोल और कॉपर को मिलाकर किया गया है|इंसानों पर इसका ट्रायल सफल ओने पर ही इसकी गाइडलाइन्स स्पष्ट होंगी हम आशा करते हैं कि परिणाम सकारात्मक आये जिससे मरीजों को राहत मिले|

According to a senior medical oncologist of Jaipur, the combination of medicines that the doctors have claimed to have made has been made by mixing Respitrol and Copper. Its guidelines will become clear only if its trial on humans is successful. We hope that the results will be positive, which will provide relief to the patients.

अभी लग सकता है समय 

एक अन्य सीनियर मेडिकल ऑन्कोलॉजिस्ट के अनुसार इसके बारे में अभी कुछ कहना जल्दबाजी होगी
कई बार ऐसा भी होता है कि जिन दवाओं का जानवरों पर ट्रायल सफल हुआ है वह इंसानों में सफल नहीं हो पाती है और इसका अलग असर देखने को मिलता है|

According to another senior medical oncologist, it is too early to say anything about it.Many times it also happens that the medicines which have been successfully tested on animals are not successful in humans and hence different effects are seen.

100 रुपये की दवा से कैंसर का इलाज-15 लाख मरीजों को मिलेगा फायदा-Cancer treatment with medicine worth Rs 100 – 15 lakh patients will benefit

 

यदि कैंसर की इस दवा का मानव ट्रायल सफल हो जाता है तो देश के लगभग 15 लाख कैंसर मरीजों को इसका लाभ मिलेगा वह भी मात्रा 100 रुपये में | आशा करते हैं इसका मानव ट्रायल सफल हो जिससे देश में कैंसर नाम की खतरनाक बीमारी का सस्ता इलाज हो सके |

If the human trial of this cancer medicine is successful, then about 15 lakh cancer patients of the country will get its benefit and that too for Rs 100. We hope that its human trials are successful so that the dangerous disease called cancer can be treated cheaply in the country.

कैंसर के बारे में अधिक जानकारी के लिए वेबसाइट https://www.cancer.net/ पर विजिट करें

https://happygoodsmile.com/2024/02/29/astro-turism/

 

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *