फिर मिले राजस्थान की धरा में सोने के भंडार

 

अरावली में दबा हुआ है सोना

राजस्थान का अब चमकेगा सितारा 

फिर मिले राजस्थान की धरा में सोने के भंडार

अरावली में दबा हुआ है सोना

राजस्थान के धोरों ने अब सोना उगलना शुरू कर दिया है| जी हाँ, क्रूड तेल के भंडारों के बाद अब राजस्थान के रेतीले धीरों में अब सोने के भंडार भी दबे हुए मिले हैं| मरू प्रदेश में पिछले कुछ समय से सोने के भंडारों की खोज चल रही थी ,जिसमें राजस्थान के करीब आधा दर्जन से भी अधिक स्थानों पर सोने के दबे हुए भंडार मिले हैं |

सोने के इन भंडारों से खनन शुरू होने के साथ ही राजस्थान की देश और दुनिया में एक विशिष्ट पहचान बन जाएगी|

आखिर कितना सोना दबा हुआ है मरू प्रदेश की जमीन में कहाँ कहाँ मिले सोने के भंडार

राजस्थान में करीब 235 मेट्रिक टन सोने के भण्डार होने का अनुमान है | जो बिहार के बाद देश में दूसरे नंबर पर है | अनुमान के मुताबिक देश भर में 654 मेट्रिक टन सोने के भंडार है |

देश न कहाँ कहाँ है सोने के भंडार

देश न अब तक 6 राज्यों में सोने की खोज की जा चुकी है|

बिहार में सबसे ज्यादा जगहों 44 पर सोना मिला है |राजस्थान स्वर्ण भंडारों के मामले में दूसरे स्थान पर है जहाँ 25 जगहों पर सोने के भंडारों की पुष्टि हुयी है कर्नाटक 21 स्थान के साथ तीसर नंबर पर है| पश्चिम बंगाल और आंध्रप्रदेश में 3-3 और झारखण्ड में 2 स्थानों पर सोने के भंडार मिले हैं|

अरावली में दबा हुआ है सोना

राजस्थान में कहाँ कहाँ मिले सोने के भंडार

राजस्थान में सोने की खोज में कई स्थानों पर सोना दबा होने की पुष्टि हुई है |प्रदेश के लगभग आधे दर्जन से अधिक सोने के भंडार मिले हैं | राजस्थान के उदयपुर, बांसवाड़ा, दौसा,डूंगरपुर जिलों में सोने के भंडार हैं |

वे कौनसी जगह है जहाँ पर सोना होने के प्रमाण मिले है और यहाँ कितना सोना दबा हुआ है|

  1. बांसवाड़ा के भूकिया जगपुरा में करीब 6.50 वर्ग किलोमीटर क्षेत्र में  226 टन सोना होने का अनुमान है, जिसकी कीमत एक लाख बारह हजार करोड़ रुपये है|
  2. दौसा जिले के ढाणी बसेड़ी क्षेत्र में 1.84 स्क्वायर किलोमीटर में करीब 6.52 टन से ज्यादा सोना होने का अनुमान है, जिसकी बाजार कीमत लगभग 3250 करोड़ रुपये के लगभग है|
  3. उदयपुर के डेगोचा में लगभग 4.82 स्क्वायर किलोमीटर में 2.94 टन सोने के अनुमान है, जिसकी कीमत अनुमानित 1410 करोड़ रुपये आंकी गयी है|
सबसे पहले कहाँ से शुरू होगा सोने के खनन का काम

राजस्थान में इतनी जगहों पर सोना मिला है |अब इनमे से सोने के खनन का काम कहाँ से शुरू होगा | इसके लिए सरकार खदान की नीलामी करने जा रही है | ऐसा बताया जा रहा है कि सबसे पहले बांसवाड़ा जिले की घाटोल तहसील के भूकिया-जगपुरा देलवाड़ा और पंच – महूरी से सोने का खनन शुरू हो सकता है | इसके लिए खान विभाग यहां बड़े स्तर पर नीलामी की तैयारी कर रहा है|

अरावली में दबा हुआ है सोना
अरावली में सोने के साथ और क्या क्या निकलेगा खनन में और क्या होगा इनका उपयोग

सोने के मिले इन भंडारों से सोना तो निकलेगा ही और सोने के साथ ही कई कीमती धातु भी निकलने वाली हैं| सोने के साथ साथ निकलने वाली इन धातुओं में कॉपर, निकल और कोबाल्ट भी होंगी|

इनके निकलने से प्रदेश में इलेक्ट्रॉनिक, पेट्रोलियम, पेट्रो केमिकल, बैटरी ,एयर बैग जैसे उद्योग लगेंगे जिससे राजस्थान में निवेश को बढ़ावा मिलेगा और प्रदेश के युवाओं के लिए रोजगार के अवसर प्राप्त होंगे|

कॉपर का उपयोग इलेक्ट्रॉनिक क्षेत्र में किया जायेगा|

निकल के उपलब्ध होने से बैटरी सिक्कों की ढलाई और इलेक्ट्रॉनिक उद्योग लगेंगे|

कोबाल्ट को एयर बैग और पेट्रो केमिकल उद्योग में काम लिया जायेगा|

यह भी पढ़ें ↓

https://happygoodsmile.com/2024/03/05/100-100-परीक्षा-में-कैसे-प्राप्त/

 

https://happygoodsmile.com/2024/03/01/100-रुपये-की-दवा-से-कैंसर-का-इल/

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *